sirf sach…nothing else !

हापुड़ एक्सप्रेस: दो हैलीकॉप्टरों की हुई इमरजेंसी लैंडिंग

aks24

बिनौली ब्रेकिंग। रंछाड़ गांव मे दो हैलीकॉप्टरों की हुई इमरजेंसी लैंडिंग, एक हेलीकॉप्टर हुवा दुर्घटना ग्रस्त, हेलीकॉप्टर मे सवार पायलट सहित दो लोगो ने ऊपर से कूदकर बचाई जान।

by Mahesh Kumar from Hapur(U.P.)

 दुष्कर्म   के विरोध में कल फिर से शांति मार्च

thumb 2

हापुड़ के पिलखुवा में हुए मॉब लिंचिंग मामले की वजह से पिछले महीने वकीलों द्वारा कोर्ट के बहिष्कार के निरंतर हड़ताल होती रही यह विवाह पूरी तरह शांत भी नहीं हुआ कि एक और घिनौनी  घटना से हापुड़ को शर्मसार होना पड़ा पिछले सप्ताह हापुड़ में एक छोटी बच्ची से चार पांच लड़कों ने मिलकर  दुष्कर्म किया जिस के विरोध में कल फिर से शांति मार्च निकाला गया इससे एक दिन पूर्व भी रात में कैंडल मार्च निकालकर लोगों ने प्रदर्शन किया जनता दुष्कर्म के दोषियों को पकड़ने की मांग कर रही है और उन को कड़ी से कड़ी  सजा मिल सके.

by Mahesh Kumar from Hapur(U.P.)

Mission-Nirmal-Ganga

तीर्थनगरी बृजघाट मे माँ गंगा को स्वचछ ,निर्मल,अविरल एंव प्रदुषण मुक्त करने के लिए भारत सरकार के गंगा बिचार मंच एंव नमामि गंगे मंत्रालय ने अत्याधुनिक मशीन बृजघाट के लिए भेजी है ,जो गंगा के कूडा़ करकट आदि को एकत्रित कर बाहर निकालेगी.

उ.प्र.गंगा बिचार मंच के सह संयोजक अशोक शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि यह मशीन केंद्रं सरकार ने तमिलनाडू से भेजी है ,जो भारत मे कलकत्ता,पटना ,बनारस और हापुड जनपद के बृजघाट मे कार्य कर रही है .

शर्मा ने बताया कि मशीन निरंतर 8 घंटे प्रतिदिन कार्य करेगी व मात्र एक घंटे मे तीन लीटर डीजल का खर्चा आता हे उन्होने यह भी बताया कि गंगा मे इस मशीन के कार्य करने पर किसी  भी प्रकार से जलीय जीव जन्तुओ को किसी तरह से कोई नुकसान नही होगा.

मशीन द्वारा गंगा की हो रही सफाई से गंगा भक्तो ने  व्यापक खुशी प्रकट की है और लोगो को लगने लगा है माननीय प्रधानमंत्री नरेद्रं मोदी व जल संसाधन गंगा नदी विकास मंत्री उमा भारती द्वारा माँ गंगा को स्वचछ,निर्मल,अविरल एंव प्रदुषण  मुक्त करने का सपना अब साकार  होता नजर आ रहा है.

जिला संयोजक प्रदीप भाटी , जिला सह संयोजक नरेश शर्मा व तेजेद्रं शर्मा अमरोहा जिला संयोजक संजय सिंह ,जिला सह संयोजक उत्तम शर्मा,निशांत गुप्ता, ने कहा कि वो दिन अब दूर नही जव माँ गंगा पूर्ण रूप मे स्वचछ,निर्मल,अविरल,एंव प्रदूषण मुक्त नजर आयेगी,और तीर्थ नगरी बृजघाट मे आने वाले समय  मे श्रद्वालुओ की संख्या मे बढोक्तरी होगी  ओर बृजघाट तीर्थनगरी का भी नाम भी हरिद्वार,बनारस की तरह लिया जाया करेगा.

 

By Sumit Agrawal and Ankit Chauhan from Brijghat (U.P.)

Like(0)Dislike(0)